• 25- जनवरी-2015 को यूनियन के अथक प्रयास द्वारा माननीय राष्ट्रपति द्वारा गणतंत्र दिवस के पूर्व संध्या में दिए गए भाषण को मैथिली में भी प्रसारित करवाया गया.

  • प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदीजी के कार्यक्रम मन की बातका प्रसारण देश के करीब 24 भाषा में होता था लेकिन मैथिली में नहीं होता था. मिथिला स्टूडेंट यूनियन के अथक प्रयास के द्वारा अब ये कार्यक्रम मैथिली में भी प्रसारित हो रहा हैं.

  • मिथिला बहुल्य क्षेत्र के आकाशवाणी में पहले मैथिलि लोक गीत का ही प्रसारण होता था लेकिन यूनियन ने प्रसार भारती में अपना पहुँच बना कर अब मैथिलि फ़िल्मी गीत का भी प्रसारण सुरु करवाया.

  • तत्कालीन DRM को ज्ञापन देकर मिथिला के सभी रेलवे स्टेशन पर मैथली में उद्घोषणा सुरु करवाया.

  • मिथिला स्टूडेंट यूनियन का महीनों का मेहनत और तपस्या के फलस्वरूप दरभंगा से हवाई सेवा सुरु करवाया गया , यूनियन विमान सेवा सुरु करवाने के लिए पर्यटन मंत्री श्री महेश शर्मा जी को ज्ञापन दिया, प्रसार भारती के कार्यक्रम विकली स्पीच में राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अनूप मैथिल जी द्वारा पब्लिकली सवाल पूछा गया साथ ही सोशल मीडिया पर बहुत दिनों तक कैंपेन भी चलाया. लेकिन कुछ तत्कालीन समस्या के कारण हवाई सेवा को फिर से बंद कर दिया गया लेकिन यूनियन अभी इस पर अपना काम कर रही हैं ताकि जल्दी से जल्दी फिर से ये सेवा सुरु करवाया जाये .

  • यूनियन ने BSNL के चीफ एक्सक्यूटीव ऑफिसर से बात करके एवं उन्हें ज्ञापन देकर मैथली में अनाउंसमेंट सुरु करवाया .

  • अलग मैथिली साहित्य आकादमी के लिए भाषा मंत्री संदीप कुमार जी के ज्ञापन देल गेल.

  • संस्कृति मंत्री महेश ठाकुर जी को ज्ञापन देकर मैथिली नव वर्ष को राष्ट्रीय मान्यता दिलवाया गया.

  • बजट सत्र में केंद्र सरकार द्वारा बिहार में AIIMS जैसा दूसरा अस्पताल दिया गया. जिसे मिथिला क्षेत्र के सहरसा में लाने के लिए हस्ताक्षर अभियान चलाया गया, सोशल साईट पर कैंपेन किया गया साथ ही माननिये स्वास्थ्य मंत्री जे. पी . नड्डा जी, PMO ऑफिस एवं बिहार सरकार को ज्ञापन दिया गया.

  • केंद्र सरकार द्वारा 100 स्मार्ट सिटी का घोषणा किया गया. यूनियन ने जंतरमंतर पर आन्दोलन करके दरभंगा,सरहसा और पूर्णिया को स्मार्ट सिटी में शामिल करने के लिए जीतोड़ मेहनत किया. जिसमे सेनानी को दिल्ली पुलिस द्वारा हिरासत में लिया गया.

  • दिल्ली विधान सभा में जीते हुये मैथिली विधायक से मैथिली में सपथ लेने के लिए संपर्क किया गया जिसका परिणाम दिल्ली में पहली बार 3 विधायक ने मैथिली में शपथ ले कर मिथिला की संस्कृति को आगे बढाया.

  • दरभंगा में 5 दिवसीय आन्दोलन किया गया जिसका मुख्य उदेश्य मिथिला में चीनी मिल, जूट मिल, हवाई अड्डा , IIIT का स्थापना, IT पार्क, AIIMS का स्थापना, मधुबनी में केंद्रीय विद्यालय और दरभंगा सहरसा और पूर्णिया को स्मार्ट सिटी में शामिल करवाना था जिसके कारण दरभंगा पुलिस द्वारा बुरी तरह से सेनानी को पिटा गया एवं दरभंगा पुलिस द्वारा सेनानी को हिरासत में लिया गया.

  • DMCH के बिगड़ी अवस्था को ध्यान में रखते हुये यूनियन ने DMCH में धरना प्रदर्शन किया.

  • मिथिला क्षेत्र के साथ सौतेला व्यवहार करने के लिए माननीय प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी जी साथ माननीय मुख्यमंत्री नितीश कुमार जी का शव यात्रा निकाला गया एवं पुतला दहन किया गया.

  • जंतरमंतर पर स्मार्ट सिटी का मांग लेकर प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री (बिहार) का पुतला दहन किया गया.

  • 11 सूत्री मांग लेकर जंतरमंतर पर एक दिवसीय धरना साथ ही दरभंगा सांसद कीर्ति झा आजाद एवं JDU कार्यालय का घेराव किया गया जिसमे दिल्ली पुलिस द्वारा सेनानी को हिरासत में लिया गया.

  • बुरारी के मिलन विहार ,संत नगर ,झारौदा और नॉएडा में लगातार अगस्त , सितम्बर , अक्टूबर महिना में सदस्यता अभियान चलाया गया.

  • मिथिला स्टूडेंट द्वारा दरभंगा, मधुबनी और विभिन्न जगह में विधानसभा चुनाव के लिए मतदाता जागरूकता अभियान चलाया गया अभियान के बारे में सभी समाचारपत्र में प्रमुखता से छापा गया.

  • मिथिला विश्वविद्यालय में छात्र के अधिकार को हनन किया जा रहा था जिसे यूनियन ने प्रमुखता से उठाया एवं सभी छात्र संघ ने मिलकर लगातर एक महीने तक मिथिला से पटना तक आन्दोलन किया, राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा तब जा के कहीं अनियमिता समाप्त हुआ .

  • मैथिली भाषा को प्राथमिक शिक्षा में शामिल करवाने के लिए एवं मैथिली भाषा में भी रोजगार मिले इसके लिए शिक्षा मंत्री डॉक्टर अशोक चौधरी एवं सम्बंधित निकायों में ज्ञापन सौंपा गया साथ ही दरभंगा में अशोक चौधरी जी का घेराव किया गया. इसके लिए यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अनूप मैथिल जी पहले ही पटना में 3 दिन के अनशन पर बैठे चुके हैं. जहाँ बिहार सरकार द्वारा ये आश्वाशन दिया गया था की बहुत जल्द मैथिली में प्राथमिक शिक्षा प्रारम्भ की जाएगी.

  • यूनियन के बेनीपट्टी इकाई द्वारा बेनीपट्टी में लोहिया चौक पर हाईमस्टलैम्फ लगवाने के लिए बैठक किया गया.

  • केंद्र सरकार के स्वक्षता अभियान में यूनियन ने जमकर हिस्सा लिया और मिथिला बहुल्य क्षेत्र में इसका निष्पादन किया गया.

  • झंझारपुर टीम द्वारा मधेपुर कॉलेज में अनियमिता को सुधारने के लिए उग्र आन्दोलन किया गया जिसमे प्रिंसिपल द्वारा प्रदेश अध्यक्ष कीर्ति मंडल पर मुकदमा भी दायर किया गया.

  • मधेपुर प्राथमिक अस्तपाल में व्याप्त भ्रष्टाचार को ख़त्म करने के लिए एक दिवसीय धरना किया गया जिसके फलस्वरूप अभी अस्तपाल की व्यवस्था में काफी सुधार आ गयी हैं.

  • 5 सूत्री मांग को लेकर दरभंगा यूनिट ने मिथिला विश्वविध्यालय में शांतिपूर्ण धरना दिया गया.

  • बेनीपुर ईकाई द्वारा पर्यवारण सुरक्षा रैली एवं मतदाता जागरूकता अभियान चलाया गया. जिसके फलस्वरूप यूनियन को क्षेत्रीय लोगों से बहुत सराहना मिला.

  • निजी शिक्षण संस्थानों एवं सरकारी शिक्षण संस्थानों को सुचारू रूप से चलाने एवं मनमाना शुल्क नहीं वसूलने एवं पुस्तकों के नाम गरीब छात्रों पर अत्यधिक आर्थिक बोझ ना डालने के लिए जन सुनवाई का आयोजन किया गया.

  • 11 सूत्री मांगों को लेकर दरभंगा के पोलो मैदान से आयकर चौराहा तक जन चेतना यात्रा किया गया जिससे क्षेत्र वासी पर बहुत प्रभाव हुआ .

  • हायाघाट विधानसभा में यूनियन द्वारा संकल्प यात्रा किया गया जिसका उदेश्य था कि ज्यादा से ज्यादा लोगो तक यूनियन का विचार फैलाया जाये. ताकि मिथिला के विकास में मिथिला वासी एकजूट होकर काम करें एवं सेनानी द्वारा भीख भी माँगा गया.

  • यूनियन द्वारा दिल्ली,कोलकत्ता व दरभंगा में सरस्वती पूजा किया गया.

  • दिल्ली टीम द्वारा दिल्ली में रह रहे मैथिल बच्चों को प्रोत्साहन के लिए एक क्विज प्रतियोगिता का आयोजन किया गया.

  • राष्ट्रीय टीम द्वारा 3 दिवसीय बिस्फी,जाले,बेनीपट्टी एवं केवटी में पद यात्रा किया गया जिसका मुख्य उद्देश्य था कि इस क्षेत्र में भी यूनियन का विचार प्रसारित किया जाये और टीम तैयार किया जाये.

  • बहेरी टीम द्वारा मेगा प्रतियोगिता का आयोजन किया गया.

  • नवादा इकाई द्वारा विनीत जयंती का आयोजन किया या जिसमे यूनियन को बहुत प्रेरणास्रोत अनुभव हुआ.

  • यूनियन द्वारा राष्ट्रीय ऑफिस दिल्ली में झंडा त्वलन का आयोजन किया गया.

  • नेपाल में मधेशियों पर हो रहे अत्याचार (जो वास्तव में मैथिल हैं) के विरोध प्रदर्शन में नेपाल एम्बेसी का घेराव किया गया.

  • नोट:- और भी ऐसे बहुत काम हैं जो प्रतक्ष्य या अप्रतक्ष्य रूप से मिथिला के छात्र वा क्षेत्र के विकास के लिए यूनियन द्वारा किया गया हैं, जिसका रिकॉर्ड यूनियन के पास नहीं हैं.